‘1983’ : रणवीर को ‘कपिल देव’ बना रहा है यह शख्स

Views : 2344  |  0 minutes read

बॉलीवुड में पिछले कई समय से बायोपिक का दौर चल रहा है। सबसे ज्यादा बायोपिक खेलों से संबंधित बन रही हैं। महेन्द्र सिंह धोनी पर फिल्म के बाद अब इंडियन क्रिकेट टीम के महान बल्लेबाज कपिल देव पर भी बायोपिक बन रही है। यह फिल्म 1983 में विश्व कप की कहानी को बयां करेगी। इस फिल्म में रणवीर सिंह मुख्य भूमिका में नजर आएंगे। अपनी हर फिल्म में डूबकर तैयारी करने वाले रणवीर के लिए इस फिल्म में कपिल का रोल करना आसान नहीं है। ऐसे में फिल्म के लिए उन्होंने पहले से ही तैयारी करना शुरू कर दिया है। खास बात यह है कि पर्दे पर वे कपिल के अंदाज को बयां कर सकें इस​के लिए एक खास व्यक्ति उन्हें ट्रेनिंग दे रहा है।

दरअसल हाल ही रणवीर सिंह ने एक फोटो शेयर की है, जिसमें वे हाथ में बैट पकड़े हुए हैं और उनके साथ एक व्यक्ति नजर आ रहे हैं और वह शख्स हैं बलविंदर संधू। गेंदबाज बलविंदर संधू 1983 विश्व कप ​टीम का हिस्सा थे।

ये हैं बलविंदर सिंह संधू

 

बलविंदर संधू 1983 की वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा थे। संधू ने फाइनल मुकाबले में अपनी खास गेंद पर गॉर्डन ग्रीनिज को एक रन पर बोल्ड किया था। उन्होंने भारत को पांच रन के कुल स्कोर पर पहली सफलता दिला कर टीम का आत्मविश्वास बढ़ा दिया था। उन्होंने इस मैच में नौ ओवर में 32 रन देकर दो विकेट हासिल किए थे। संधु के अलावा कपिल देव भी बीच में कुछ समय के लिए रणवीर सिंह को ट्रेन करेंगे। रविवार को उन्होंने अपने फेसबुक अकाउंट से तस्वीर शेयर की है जिसमें वह रणवीर को ट्रेन करते नजर आ रहे हैं। खबर है कि फिल्म में संधू का रोल पंजाबी एक्टर ऐमी वर्क करेंगे।

वो पहला विश्वकप

 

भारत ने साल 1983 में लोगों की उम्मीदों से परे खिताब हासिल किया था। कपिल देव की कप्तानी में भारत ने पहली बार वर्ल्ड कप जीता था। कपिल ने कप्तानी के साथ-साथ बतौर ऑलराउंडर भी जीत में अहम भूमिका निभाई थी। रणवीर सिंह के लिए यह रोल करना आसान नहीं होने वाला है और उन्हें इस बात का एहसास उन्हें खुद सचिन तेंदुलकर ने कराया। एक इंटव्यू में रणवीर सिंह ने कहा था कि जब मैंने सचिन तेंदुलकर को बताया कि मैं कपिल पाजी बनने वाला हूं तो उन्होंने मुझसे कहा कि तुम वैसे दिख तो जाउगे लेकिन उनके एक्शन को कैसे कॉपी करोगे?

रणवीर की होगी असल परीक्षा

रणवीर ने अब तक ​पटकथा आधारित किरदारों को पर्दे पर उतारा है। अब तक उन्होंने किसी असल व्यक्तित्व का रोल नहीं निभाया है। ऐसे में उनके लिए कपिल का किरदार निभाना किसी भी तरह से आसान नहीं होने वाला है। यह रणवीर की असल परीक्षा होगी। दरअसल कपिल देव कई मायनों में साथी खिलाड़ियों से अलग थे। उनके कुछ खास एक्शन उन्हें सबसे अलग बनाते थे जिन्हें कॉपी करना किसी के लिए भी आसान नहीं है। कपिल देव का बलिंग एक्शन कुछ हटके हुआ करता था, उनके हाथों की मूवमेंट और पॉजीशन को समझ पाना उस समय बल्लेबाजों के साथ-साथ गेंजबाजों के लिए भी मुश्किल होता था।
साथ ही कपिल का फेमस नटराज शॉट कॉपी करना भी उनके लिए काफी टफ होगा।

अब देखना यह है कि ​संधू रणवीर को कपिल के कितना करीब ले जा पाते हैं। कबीर खान के निर्देशन में बनने वाली यह फिल्म अप्रेल में रिलीज होगी।

COMMENT