कोरोना के बदलते स्वरूप के बीच केंद्र सरकार ने दिया निगरानी बढ़ाने का आदेश

Views : 655  |  3 minutes read
Corona-Monitoring-Order

कोरोना वायरस अपनी शुरुआत से अब तक कई बार अपना स्वरूप बदल चुका है। इसकी वजह से देश में कई जगहों पर संक्रमण के फिर से मामले भी सामने आने लगे हैं। इसे देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने देशभर में निगरानी बढ़ाने का आदेश दिया है। कोरोना के नए एक्सई वैरियंट को लेकर स्वास्थ्य मंत्री मांडविया ने मंगलवार को विशेषज्ञों के साथ बैठक की। इस दौरान उन्होंने देशभर में कोरोना के नए वैरियंट की पहचान करने और गहन निगरानी को लेकर भी दिशा-निर्देश दिए।

पांच राज्यों में संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी

इस बैठक में राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह के अध्यक्ष डॉ. एनके अरोड़ा ने ब्रिटेन, चीन और अमेरिका के वर्तमान हालातों के बारे में जानकारी देते हुए टीकाकरण और एहतियाती खुराक को लेकर जानकारी दी। वहीं, नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के निदेशक डॉ. सुजीत कुमार सिंह ने दिल्ली, हरियाणा, केरल, मिजोरम सहित करीब पांच राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामलों में फिर से बढ़ोतरी होने की जानकारी दी।

टीकाकरण को लेकर हर दिन जिलावार समीक्षा जरूरी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने निर्देश दिए हैं कि राज्य सरकारों के साथ संपर्क कर कोविड सतर्कता नियमों के पालन पर जोर दिया जाए। टीकाकरण को लेकर जिला वार स्थिति की समीक्षा हर दिन हो। उन्होंने कहा कि जो जिले या राज्य जोखिम की स्थिति में दिखाई दे रहे हैं, वहां केंद्रीय स्तर पर भी प्रयास तेज करने चाहिए। मालूम हो कि देश में कोरोना के एक्सई स्ट्रेन का पहला केस गुजरात में मिला है। हालांकि इससे पहले मुंबई में भी एक केस मिला, लेकिन उसे लेकर पुष्टि नहीं हुई। बता दें कि डब्ल्यूएचओ ने इसे बीए.2 स्ट्रेन से 10 फीसदी ज्यादा संक्रमित बताया है।

ओमिक्रॉन कई नए वैरियंट को दे रहा बढ़ावा

इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि कोरोना का ओमिक्रॉन वैरियंट कई नए वैरियंट को बढ़ावा दे रहा है। इनमें से एक्सई शृंखला के एक्सई व अन्य स्ट्रेन शामिल हैं। फिलहाल ये कोई भी गंभीर त्रासदी पैदा नहीं कर रहा है, लेकिन सतर्कता बरतना बेहद जरूरी है। बैठक में नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल और भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव भी मौजूद रहे।

कोरोना के 24 घंटे में करीब आठ सौ मामले सामने आए

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार को दी गई जानकारी के अनुसार देश में बीते एक दिन में कोरोना के 796 नए मामले सामने आए, जबकि इससे पहले सोमवार को 861 केस दर्ज किए गए थे। वहीं, इस दौरान संक्रमण के कारण इस दौरान 19 लोगों की मौत हो गई। बीते एक दिन में 946 मरीजों को छुट्टी भी दी गई है। इसके बाद अब सक्रिय मरीजों की संख्या 10,889 रह गई है, जो साल 2020 से अब तक की स्थिति में सबसे कम है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि बीते एक दिन में 19 लोगों की संक्रमण की वजह से मौत हुई है। वहीं, देश में अब तक कोरोना से 5,21,710 लोगों की जान जा चुकी है।

Read Also: केंद्रीय कैबिनेट ने राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान को 2025-26 तक बढ़ाने का किया फैसला

COMMENT