स्पेशल: अभिनेता जीवन ने 60 से ज्यादा फिल्मों में निभाया था ‘नारद’ का किरदार

Views : 4418  |  4 minutes read
Actor-Jeevan-Biography

बॉलीवुड के पहले नारद मुनि जीवन का असली नाम ओंकार नाथ धर था। 24 अक्टूबर 1915 को ओकार नाथ धर का जन्म एक कश्मीरी पंडित परिवार में जन्म हुआ था। जीवन के 24 भाई बहन थे। जीवन के जन्म के बाद ही उनकी मां का निधन हो गया था। वहीं, तीन साल में उनके पिता का निधन हो गया। अभिनेता जीवन ने अपने कॅरियर में 60 से ज्यादा बार नारद मुनि का किरदार निभाया था। ऐसे में 10 जून को उनकी 34वीं पुण्यतिथि के मौके पर जानते हैं उनके बारे में…

धार्मिक फिल्मों में जीवन के लिए नारद का रोल फिक्स था

उस दौर में जीवन को लोग नारद मुनि के नाम से ही जानने लगे थे। जीवन ने हमेशा ही विलेन का किरदार निभाया। साथ ही जीवन ने अलग—अलग भाषाओं की 60 फिल्मों में नारद का रोल निभाया। जीवन ने 60, 70 और 80 के दशक में फिल्मों में विलेन का किरदार निभाया है। मशहूर एक्टर किरण कुमार जीवन के बेटे हैं। 50 के दशक में बनी हर धार्मिक फिल्म में इन्होंने नारद का रोल किया था। इस एक रोल की वजह से उनकी एक खास पहचान बन गई थी।


वो जानते थे कि वो हीरो नहीं बन सकते इसलिए विलेन बन गए

जीवन जब मुंबई पहुंचे थे तो उनके जेब में केवल 26 रुपए थे। जीवन ने शुरुआत में डायरेक्टर मोहनलाल सिन्हा के स्टूडियो में की थी। मोहनलाल ने उन्होंने अपनी फिल्म ‘फैशनेबल इंडिया’ में रोल दिया। जीवन को पहचान 1935 में आई फिल्म ‘रोमांटिक इंडिया’ से पहचान मिली थी। जीवन ने अफसाना’, ‘स्टेशन मास्टर’, ‘अमर अकबर एंथनी, नागिन, शबनम, हीर-रांझा, जॉनी मेरा नाम जैसी यादगार फिल्मों में काम किया था। जीवन ने अपनी करियर की शुरुआत में पहचान लिया था कि वह हीरो नहीं बन सकते हैं। ऐसे में उन्होंने विलेन का रोल किया। खूंखार विलेन द्वारा कॉमेडी करने का ट्रेंड भी बॉलीवुड में जीवन ने शुरू किया था।

जीवन के दो बेटे- किरण कुमार और भुषण जीवन हैं। किरण कुमार बॉलीवुड और टीवी के जाने-माने एक्टर हैं। वहीं, उनके दूसरे बेटे भूषण जीवन की 1997 में लिवर की खराबी के कारण मौत हो गई थी। जीवन खुद भी 71 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह गए। उनका निधन 10 जून 1987 को मुंबई में हुआ।

COMMENT