12 साल के इस लड़के ने योगी आदित्यनाथ की जीवनी सहित 135 किताबें लिख डाली

Views : 5517  |  0 minutes read

यूपी के अयोध्या में रहने वाले मृगेंद्र राज ने सिर्फ 12 साल की उम्र में 135 किताबें लिख डाली। मृगेंद्र को बचपन से ही लिखने-पढ़ने का शौक है। जब वो सिर्फ 6 साल का था, तब उसने अपनी पहली किताब लिखी थी। जिस उम्र में बच्चे पढ़ाई करने से कतराते हैं उस उम्र में मृ्गेंद्र गंभीर मुदृों पर किताबें लिख रहा है।

आज का अभिमन्यु कर रहा ​है कमाल

12 साल के इस बच्चे ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के जीवन पर आधारित एक किताब भी लिखी है। मृगेंद्र अपनी किताबों में अपना टाइटल ‘आज का अभिमन्यु’ लिखता है। इसने धर्म और कई प्रसिद्ध हस्तियों की जीवनी लिखी हैं। मृगेंद्र के नाम कुल चार वर्ल्ड रिकॉर्ड भी दर्ज हैं। मृगेंद्र राज का कहना है कि उसे बचपन से ही लिखने का शौक था और महज 6 साल की उम्र में ही किताब लिखना शुरू कर दिया था।

उसकी पहली किताब कविताओं का एक संकलन थी।जिसमें बहुत-सी अलग-अलग कविताएं थी। राज ने कहा कि उसने रामायण के 51 किरदारों को लेकर उनका विश्लेषण करते हुए भी एक किताब लिखी हैं। हर किताब में करीब 25 से 100 पन्ने हैं। मृगेन्द्र को लंदन स्थित वर्ल्ड यूनिवर्सिटी ऑफ रिकॉर्ड्स से डॉक्टरेट करने के लिए भी ऑफर मिला है।

…तो क्या पैसों की कमी के चलते लंदन नहीं जा पाएगा ये युवा लेखक

मृगेंद्र राज की मां अध्यापिका है और बेटे के बारे में बात करते हुए उन्होंने बताया कि मृगेंद्र को बचपन से ही पढ़ने लिखने का शौक था। वह बड़ा होकर एक प्रसिद्ध लेखक बनाना चाहता है और कई विषयों को लेकर ज्यादा से ज्यादा किताबें लिखना चाहता है।

मृगेन्द्र के पिता बताते हैं कि लंदन की वर्ल्ड रिकॉर्ड यूनिवर्सिटी अद्भुत प्रतिभाओं को, लेखन और अन्य को भी डॉक्टरेट का ऑफर देती है और उनका रूल रेगुलेशन भी बड़ा टाइट है। फीस में भी रियायत नहीं करती है। हमारा बड़ा मन था कि लंदन में जाकर बेटा भारत का नाम रोशन करता लेकिन हम लोग लाख चाहने के बावजूद पैसे का इंतजाम नहीं कर पा रहे।

COMMENT