हो गए दस साल, अब तक नहीं शुरू हो पाई जयपुर के लिए सीधी रेल सेवा

Views : 2156  |  0 minutes read

श्री गंगानगर से वाया ऐलनाबाद होती हुई जयपुर ट्रेक को मीटर गेज से ब्रॉडगेज में बदलने का काम शुरू हुए करीब 10 वर्ष पूरे होने को है लेकिन अभी तक लोग पूर्व की भांति ही जयपुर के लिए सीधी रेल सेवा की बाट जोह रहे हैं।
इस मार्ग पर रेलवे ने 31 मार्च 2009 को जयपुर के लिए गाड़ी बंद कर दी थी जो श्री गंगानगर से चलकर वाया ऐलनाबाद होती हुई जयपुर पहुंचती थी। गाड़ी का संचालन बंद होने से जयपुर के लिए सफर करने वाले यात्रियों को अधिक समय और चार गुना किराया ज्यादा खर्च कर बसों में सफर करना पड़ता है।

ट्रायल के बाद जागी थी उम्मीद

कुछ माह पूर्व रेलवे की ओर से पलसाना से रींगस के बीच ब्रॉडगेज लाइन पर गाड़ी का ट्रायल लिया गया था इसके बाद लोगों में उम्मीद जगी थी कि अब सीकर तक की सीधी रेल सेवा तो जल्द ही मिल जाएगी लेकिन यह उम्मीद भी अभी पूरी होती नजर नहीं आ रही है। जानकारी के अनुसार रींगस में बड़े पुल का निर्माण कार्य चलने के कारण मार्च 2019 से पहले इस रेलगाड़ी का संचालन संभव नहीं है। अभी तक 10 सालों में रेलवे ने श्री गंगानगर से जयपुर के बीच, श्री गंगानगर से सादुलपुर, सादुलपुर से चूरू, चूरू से सीकर और सीकर से रींगस तक मीटर गेज लाइन को ब्रॉडगेज लाइन में बदला है।

इन यात्रियों को मिलेगा फायदा

इस गाड़ी के शुरू होने से श्री गंगानगर, सादुलशहर, हनुमानगढ़, टिब्बी, तलवाड़ा झील, ऐलनाबाद, नोहर, भादरा, सिधमुख, सादुलपुर, चुरु, फतेहपुर शेखावाटी, लक्ष्मणगढ़, सीकर क्षेत्र के यात्रियों को लाभ मिलेगा साथ ही यात्रियों के समय की बचत होगी और किराया भी कम लगेगा। इससे रेलवे को यात्री भार भी अधिक मिलेगा।

रैक के कारण रूकी हुई

श्री गंगानगर से वाया ऐलनाबाद सीकर ब्रॉडगेज लाइन बने काफी समय हो चुका है। सीकर से पलसाना के बीच ब्रॉडगेज लाइन पर रेलवे के सेफ्टी अधिकारी ने ट्रायल कर हरी झंडी भी दे दी है लेकिन रेलवे अधिकारी इस ट्रेक पर गाड़ी चलाने के लिए रैक नहीं मिलने का कारण बता कर इसका संचालन अभी शुरू नहीं किए जाने की बात कर रहे हैं।

COMMENT