वेस्टइंडीज के बल्लेबाज मार्लोन सैमुअल्स ने पेशेवर क्रिकेट से लिया संन्यास

Views : 1443  |  3 minutes read
Marlon-Samuels-Retired

वेस्टइंडीज के बल्लेबाज मार्लोन सैमुअल्स ने बुधवार को पेशेवर क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी। सैमुअल्स विंडीज की दोनों टी-20 वर्ल्ड कप (2012, 2016) जीत के फाइनल मैच में टॉप स्कोरर रहे थे। 39 वर्षीय मार्लोन सैमुअल्स ने इस साल जून में अपने रिटायरमेंट प्लान के बारे में क्रिकेट वेस्टइंडीज (सीडब्ल्यूआई) को सूचित कर दिया था। उल्लेखनीय है कि सैमुअल्स आखिरी बार दिसंबर 2018 में बांग्लादेश के खिलाफ वेस्टइंडीज टीम के लिए खेले थे। यानि करीब 2 साल से वह टीम से बाहर चल रहे थे।

टी-20 वर्ल्डकप के फाइनल में खेली पारी से सुर्खियों में आए

आपको जानकारी के लिए बता दें कि मार्लोन सैमुअल्स ने कोलंबो में खेले गए साल 2012 के टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल में जोरदार पारी खेलकर सुर्खियां बटोरी थीं। उस मुकाबले में श्रीलंका के खिलाफ उन्होंने 56 गेंदों में 78 रनों की तेजतर्रार और बेशकीमती पारी खेली थी। साथ ही सैमुअल्स ने गेंदबाजी करते हुए 4 ओवरों में 15 रन देकर 1 विकेट भी चटकाया था।

इसके बाद वर्ष 2016 में कोलकाता में खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल में मार्लोन सैमुअल्स ने इंग्लैंड के खिलाफ 66 गेंदों पर नाबाद 85 रन ठोके थे, जिसकी बदौलत विंडीज ने 4 विकेट से जीत दर्ज की थी। मार्लोन ने दोनों फाइनल में ‘मैन ऑफ द मैच’ का अवॉर्ड हासिल करने का कारनामा किया। उन्होंने अपने कॅरियर के दौरान कई टी-20 टीमों का प्रतिनिधित्व किया, जिनमें इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में दिल्ली डेयरडेविल्स और पुणे वॉरियर्स के अलावा बिग बैश लीग (BBL) में मेलबर्न रेनेगेड्स शामिल हैं।

ऐसा रहा सैमुअल्स का इंटरनेशनल कॅरियर

मार्लोन सैमुअल्स ने वेस्टइंडीज की ओर से 71 टेस्ट, 207 वनडे इंटरनेशनल और 67 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। क्रिकेट के तीनों अंतर्राष्ट्रीय प्रारूपों में उनके नाम कुल 17 शतक सहित 11,134 रन दर्ज हैं। साथ ही उन्होंने 152 विकेट भी झटके हैं। सैमुअल्स का कॅरियर विवादों से भी घिरा रहा। मैदान से बाहर वह कई गलत कारणों से भी चर्चा में रहे। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने वर्ष 2008 में उन्हें पैसा लेने और क्रिकेट को बदनाम करने का दोषी पाया था और उन पर दो साल का प्रतिबंध ठोक दिया था।

Read More: सबसे कम उम्र में 1000 रन पूरे करने वाली भारतीय महिला क्रिकेटर हैं वेदा कृष्णमूर्ति

साल 2015 में आईसीसी ने मार्लोन सैमुअल्स के गेंदबाजी एक्शन को अवैध पाया और उन्हें एक साल के लिए गेंदबाजी करने से रोक दिया था। उन्होंने वर्ष 2014 में अपने बोर्ड के साथ भुगतान विवाद के कारण तत्कालीन कप्तान ड्वेन ब्रावो के भारत दौरे के बीच से हटने के फैसले का भी विरोध किया था

COMMENT