2019: इन हस्तियों को मिलेगा रसायन और चिकित्सा के क्षेत्र का नोबेल पुरस्कार

Views : 1023  |  0 minutes read
Nobel Prize Winner 2019

चिकित्सा के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार की घोषणा के बाद अकादमी ने रसायन क्षेत्र के नोबेल विजेताओं की घोषणा कर दी है। रसायन के क्षेत्र में 2019 का नोबेल पुरस्कार अमरीका के जॉन वी. गुडइनफ, जापान के अकीरा योशिनो और ब्रिटेन के स्टेनली विटिंघम को दिया जाएगा। इन तीनों साइंटिस्ट को लीथियम आयन बैटरी के विकास में अहम भूमिका के लिए यह पुरस्कार दिया जाएगा। इनके प्रयास से लीथियम आयन बैटरी की क्षमता दोगुनी हो गई है। इसकी क्षमता बढ़ने से यह बैटरी मोबाइल फोन, लैपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक वाहनों में इस्तेमाल की जा रही है।

गुडइनफ सबसे उम्रदराज नोबेल विजेता

अमरीका के 97 वर्षीय जॉन वी. गुडइनफ यह पुरस्कार पाने वाले सबसे उम्रदराज विजेता होंगे। उनसे पहले पिछले साल 96 साल के आर्थर अश्किन को नोबेल प्राइज से सम्मानित किया गया था। रसायन नोबेल पुरस्कार की घोषणा करने वाली जूरी ने कहा, ‘जॉन बी. गुडइनफ, अकीरा योशिनो और एम स्टेनली विटिंगघम को इस साल रसायन का नोबेल पुरस्कार दिए जाने से काफ़ी उत्साहित हैं।

लीथियम आयन बैटरी ने पोर्टेबल डिवाइस के इतिहास में क्रांतिकारी बदलाव लाया है। यह अगली पीढ़ी के इलेक्ट्रॉनिक वाहनों के विकास में अहम भूमिका निभाएगा। रसायन के लिए यह पुरस्कार लंबे समय से दिया जा रहा है और क्षेत्र को अधिक पहचान मिलने से खुशी होती है।’

Nobel-Prize-Medicine
एनीमिया-कैंसर के इलाज की खोज को मिलेगा चिकित्सा पुरस्कार

बुधवार को रसायन के क्षेत्र के नोबेल पुरस्कारों के अनाउंस से पहले सोमवार को चिकित्सा के क्षेत्र के प्राइज के लिए घोषणा की गई थी। इस बार चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार अमरीका के विलियम जी. केलिन जूनियर, ग्रेग एल सेमेंजा और ब्रिटेन के सर पीटर जे. रैटक्लिफ़ को दिया जाएगा। नोबेल अकादमी के अनुसार, इन वैज्ञानिकों ने खोज की है कि ऑक्सीजन की उपलब्धता को मानव कोशिकाएं कैसे महसूस करती हैं और कैसे उनके अनुकूल बनती हैं।

तीनों वैज्ञानिकों ने उस कोशिकीय मशीनरी की पहचान की जो ऑक्सीजन की उपलब्धता के अनुसार जीन्स की गतिविधियों को संचालित करती है।

Read More: 8 माह बाद भारत आएगा पहला राफ़ेल विमान, इन दो एयरबेस पर होगी 2022 तक तैनाती

यह खोज किसी जीवन की सबसे जरूरी अनुकूलन प्रक्रिया के मैकेनिज्म के बारे में बताती है। इसने मानव समझ के आधार को स्थापित किया कि किस तरह ऑक्सीजन का स्तर हमारे सेलुलर मेटाबॉलिज्म और शारीरिक गतिविधियों को प्रभावित करता है। इस खोज से एनीमिया, कैंसर और अन्य बीमारियों के इलाज में मदद मिल सकेगी। अकादमी 14 अक्टूबर तक कुल छह क्षेत्रों में नोबेल पुरस्कार विजेताओं की घोषणा करेगी।

इस बार साल 2018 और 2019 दोनों ही वर्षों के लिए साहित्य नोबेल पुरस्कारों का ऐलान किया जाएगा। पिछले साल यौन उत्पीड़न के मामले सामने आने की वजह से साल 2018 के साहित्य नोबेल की घोषणा को नोबेल अकादमी ने स्थगित कर दिया था।

COMMENT