राजेश खन्ना: वो एक्टर जिसकी सफेद गाड़ी लड़कियों की लिपस्टिक से हो जाती थी गुलाबी

Views : 3211  |  0 minutes read
rajesh-khanna

बॉलीवुड में ऐसे तो बहुत से सुपरस्टार्स हुए हैं, लेकिन वो कहते हैं ना कि नम्बर वन तो हमेशा नम्बर वन ही रहता है। समय काफी बदल गया है लेकिन इंडस्ट्री का पहला सुपरस्टार कहलाने का हक तो अब भी एक्टर राजेश खन्ना के पास ही है। अपनी बेमिसाल अदाकारी से सभी के दिलों में राज करने वाले एक्टर राजेश खन्ना का जन्म 29 दिसंबर 1942 को हुआ था।

बॉलीवुड के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना ही थे। उनको लेकर कई किस्से कहानियां फेमस हैं। जब उनकी सफेद गाड़ी बाहर निकलती थी तो लड़कियों की लिपस्टिक से वो गुलाबी हो जाती थी। बालों का स्टाइल हो, शर्ट के कॉलर की बात हो या फिर गर्दन टेढ़ी कर देखना राजेश की हर एक अदा पर फैंस अपना दिल दे बैठते थे।

अमृतसर (पंजाब) में जन्मे राजेश का असली नाम जतिन खन्ना था। हालांकि फिल्मों में आने से पहले उन्होंने अपना नाम बदलकर राजेश कर दिया था। वहीं इंडस्ट्री के लोग उन्हें ‘काका’ कहकर बुलाते थे। लड़कियों के बीच राजेश काफी पॉपुलर थे। उनकी फिल्मों के डायलॉग्स और उन्हें बोलने का उनका अंदाज़ इतना प्रभावशाली था कि हर कोई उसी फिल्मी कहानी में खो जाता था।

rajesh khanna

राजेश ने अपने फिल्मी कॅर‍ियर में सैकड़ों ह‍िट फिल्में दीं। लेकिन फिल्म ‘आनंद’ की शूटिंग के दौरान का एक किस्सा बेहद मशहूर है, जब राजेश खन्ना को अपने डायरेक्टर से माफी मांगनी पड़ी थी। दरअसल, ‘आनंद’ फिल्म को ऋषिकेश मुखर्जी डायरेक्टर कर रहे थे। शूटिंग के दौरान राजेश सेट पर अक्सर लेट पहुंचा करते थे। हर रोज करीब दो-तीन घंटे लेट पहुचना उनके लिए आम बात बन गई थी।

लेकिन एक दिन उन्हें ज्यादा देर हो गई। इस दौरान डायरेक्टर ऋषिकेश सेट पर बैठे चेस खेलते रहे। इसके बाद जैसे ही राजेश खन्ना आए, ऋषि दा ने उन्हें कॉस्ट्यूम-मेकअप के लिए भेज दिया और फिर जब राजेश तैयार होकर बाहर आए, तो ऋषिकेश मुखर्जी ने कहा ‘पैक अप’। यह सुनकर सेट पर सन्नाटा पसर गया था। फिर राजेश खन्ना ने माफी मांगते हुए कहा कि अब ऐसा दोबारा नहीं होगा।

राजेश खन्ना ने मशहूर अभिनेत्री डिंपल कपाड़िया से विवाह किया था। उनकी दो बेटियां ट्विंकल और रिंकी खन्ना हैं। बता दें कि ट्विंकल खन्ना का जन्म भी उनके जन्म के दिन ही हुआ था। राजेश खन्ना को साल 2013 में भारत सरकार ने पद्म भूषण से सम्मानित किया था। फिल्मों के अलावा उन्होंने कांग्रेस पार्टी की तरफ से राजनीति में भी कदम रखा। 18 जुलाई 2012 को उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया।

Read More: 500 रूपए लेकर आया था मुंबई, फिर इस तरह बन गया इंडिया का सबसे बड़ा कारोबारी

 

COMMENT