राजस्थान सरकार ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं स्थगित की, 8वीं, 9वीं और 11वीं के छात्र अगली कक्षा में होंगे प्रमोट

Views : 814  |  3 minutes read
Board-Examinations-Postpone

राजस्थान की गहलोत सरकार ने बड़ा फैसला करते हुए 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। राज्य में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को यह फैसला किया है। इसके साथ ही सीएम गहलोत ने कक्षा आठवीं बोर्ड, नौवीं और 11वीं के विद्यार्थियों को सीधे अगली कक्षा में प्रमोट करने की भी घोषणा की है। राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने सरकार के इस फैसले पर एक साक्षात्कार में बताया कि राज्य में 15 दिन बाद कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा के बाद परीक्षाओं को लेकर अंतिम निर्णय किया जाएगा।

मुख्यमंत्री गहलोत ने ट्वीट के जरिए दी जानकारी

राजस्थान की राजधानी जयपुर में बैठक के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर जानकारी दी कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को देखते हुए राज्य सरकार ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, अजमेर द्वारा आयोजित की जाने वाली 10वीं एवं 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। इसी के साथ राज्य सरकार ने 8वीं बोर्ड के स्टूडेंट्स को नौवीं, कक्षा 9 के स्टूडेंट्स को दसवीं तथा 11वीं कक्षा के स्टूडेंट्स को 12वीं कक्षा में प्रमोट करने का भी फैसला किया है।

बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करने की घोषणा के पहले सीएम अशोक गहलोत ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए प्रदेश में कोरोना वायरस मामलों की स्थिति की समीक्षा बैठक की। बैठक में उन्होंने चिकित्सा विशेषज्ञों द्वारा दिए गए सुझावों के आधार पर गृह विभाग को जरूरी गाइडलाइन तैयार करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री गहलोत ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना की दूसरी लहर की भयावहता को समझते हुए लोग वैसा ही व्यवहार करें, जैसा उन्होंने पहली बार लगाए गए लॉकडाउन के समय किया था।

सीबीएसई 10वीं बोर्ड रद्द और 12वीं बोर्ड की परीक्षा स्थगित

जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले केंद्र सरकार ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक के बीच हुई उच्च स्तरीय बैठक में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानि सीबीएसई बोर्ड की 10वीं की परीक्षा रद्द करने और 12वीं की परीक्षा स्थगित करने का निर्णय किया। केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. ‘निशंक’ ने एक ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी दी।

यूजीसी का निर्देश: अब स्नातकोत्तर के बराबर मानी जाएगी सीए और सीएस की डिग्री

COMMENT