पीएम मोदी ने देशवासियों से चंद्रयान-2 की लैंडिंग से पहले की यह ख़ास अपील

Views : 4177  |  0 minutes read
Chandrayaan-2

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज शुक्रवार की देर रात चंद्रयान-2 की लैंडिंग का साक्षी बनेंगे। पीएम मोदी इस दौरान बेंगलुरु में इसरो के सेंटर में साइंटिस्ट के साथ मौजूद रहेंगे। उनके साथ कई स्कूली बच्चे लाइव लैंडिंग देखेंगे। शुक्रवार को बेंगलुरु रवाना होने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने इसरो के वैज्ञानिकों को मिशन पर बधाई दी है और देश के 130 करोड़ लोगों से एक ख़ास अपील भी की है।

देर रात चंद्रयान-2 की लैंडिंग पर अपनी तस्वीर करें ट्वीट

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा है, ‘देशवासी देर रात चंद्रयान-2 की लैंडिंग देखें और इस दौरान अपनी तस्वीर क्लिक कर ट्वीट करें। प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में यह भी कहा है कि वह उन तस्वीरों को रिट्वीट करेंगे। उन्होंने शुक्रवार दोपहर कई ट्वीट किए और सफ़लता की ओर जा रहे मिशन चंद्रयान-2 को लेकर देशवासियों को अग्रिम बधाई दीं। पीएम मोदी ने लिखा कि 130 करोड़ हिंदुस्तानी जिस पल का इंतजार कर रहे थे, वह अब कुछ ही घंटे दूर रह गया है। चंद्रयान-2 आज रात चांद के दक्षिणी हिस्से की सतह पर उतरेगा। भारत और दुनिया एक बार फिर हमारे वैज्ञानिकों की क्षमता से रूबरू होगी।

PM Modi Tweet Chandrayaan-2.
ऐतिहासिक पल को देखने के लिए इसरो में भूटानी बच्चे भी रहेंगे शामिल

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आगे लिखा, ‘मैं भी इस ऐतिहासिक पल को देखने के लिए बेंगलुरु में इसरो सेंटर में मौजूद रहूंगा। उनके साथ स्कूली बच्चे भी होंगे, जिनमें भूटान से आए बच्चे भी शामिल हैं। उन्होंने ने लिखा कि ये सभी वो बच्चे हैं, जिन्होंने MyGov पर चल रहे इसरो स्पेस क्विज़ में हिस्सा लिया था। पीएम मोदी ने आगे कहा, ’22 जुलाई, 2019 को जब चंद्रयान-2 लॉन्च हुआ तब से लेकर अब तक मैंने इस ख़ास मिशन पर करीब से नज़र रखी है। इस मिशन की सफ़लता करोड़ों हिंदुस्तानियों को फ़ायदा पहुंचाएगी।

Read More: जिम्बाब्वे के नायक रॉबर्ट मुगाबे नहीं रहे, सत्ता के मोह ने करा दी थी इनकी बेइज्ज़ती!

आपकी जानकारी के लिए बता दें, 6 सितम्बर की देर रात 1.30 बजे चंद्रयान-2 का पहले लैंडर ‘विक्रम’ चांद की सतह पर उतरना शुरु करेगा। इसके 4 घंटे बाद रोवर ‘प्रज्ञान’ उतरेगा। ये प्रक्रिया सात सितंबर की सुबह 5 बजे तक चलेगी। इस दौरान पीएम मोदी रात को इसरो सेंटर पहुंच जाएंगे। प्रधानमंत्री लैंडर की शुरुआत में सेंटर में रहेंगे, लेकिन फ़िर कुछ देर के लिए होटल जाएंगे। शनिवार की सुबह जब लैंडर विक्रम और रोवर प्रज्ञान की लैंडिंग प्रक्रिया पूरी होने वाली होगी, तब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक बार फ़िर से इसरो सेंटर में पहुंच कर लाइव देखेंगे।

 

COMMENT