EMI चुकाने से मिल सकती है राहत, 3 महीने के लिए और बढ़ सकता है मोराटोरियम

Views : 764  |  3 minutes read

देश में कोरोना संकट की वजह से लॉकडाउन को 31 मई तक और बढा दिया है। इस बीच ऐसी खबरें आ रही हैं कि आरबीआई लोन मोराटोरियम पीरियड को 3 महीने और बढा कर अगस्त तक कर सकता है। यह दावा एसबीआई की एक रिसर्च रिपोर्ट में भी किया गया है। जानें, इस बारे में-

इससे पहले 31 मई तक की मिली थी राहत

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस की शुरूआत में 24 मार्च को लॉकडाउन लगा दिया गया था जिसके बाद आरबीआई ने मार्च से लेकर 31 मई 2020 तक सभी टर्म लोन की तीन महीने किस्तों में राहत दी थी। लेकिन अब 31 मई तक पुन: लॉकडाउन बढाने की वजह से इसकी पूरी संभावना है कि है कि आरबीाआई 3 महीने और लोन मोराटोरियम पीरियड को बढाकर अगस्त तक कर सकता है मगर इस दौरान इंट्रेस्ट जारी रहेगा।

एसबीआई की रिसर्च रिपोर्ट में आई ये बात सामने

जानकारी के मुताबिक एसबीआई की रिसर्च रिपोर्ट इकोरैप में यह बात निकल कर सामने आई है कि लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ने से आरबीआई कर्ज अदायगी की मोहलत को 31 अगस्त तक और बढ़ा सकता है जिससे कंपनियों को 31 अगस्त 2020 तक भुगतान करने की जरूरत नहीं होगी।

Read More : कोरोना असर: कर्ज देने में दिलचस्पी नहीं ले रहे बैंक, जानिये क्या है मामला

हाल ही में हुई मीटिंग में भी उठा था यह मुद्दा

बताया जा रहा है कि अभी कुछ दिनों पहले आरबीआई, बैंकों, एनबीएफसी आदि की हुई एक बैठक में भी कंपनियों के परिचालन में आ रही समस्याओं को लेकर कर्ज स्थगन 3 महीने और बढ़ाने की मांग भी उठ चुकी है। इसलिए पूरी संभावना है कि आरबीआई मोराटोरियम पीरियड को और आगे बढ़ा सकता है। दूसरी तरफ कई कंपनियों ने मोराटोरियम पीरियड को आगे बढ़ाने की सरकार से मांग भी की है।

 

COMMENT