एशिया के बाहर सबसे सफल तेज गेंदबाज बने ईशांत शर्मा, तोड़ा कपिल देव का रिकॉर्ड

Views : 792  |  0 minutes read

भारतीय टीम के प्रमुख तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा आज 2 सितम्बर को अपना 31वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। वर्तमान में वह वेस्ट इंडीज दौरे पर टेस्ट खेलने गए हैं जहां पर अपनी गेंद से जलवे बिखर रहे हैं और दूसरे टेस्ट में अपना पहला टेस्ट अर्धशतक लगाया है। वह अपने क्रिकेट कॅरियर के बेहतरीन दौर से गुजर रहे हैं। इस दौरे पर ही ईशांत ने पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज कपिल देव के नाम दर्ज एशिया के बाहर सबसे ज्यादा विकेट लेने के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है।

बास्केटबॉल खिलाड़ी प्रतिमा सिंह से हुआ था प्यार

chaltapurza.com

ईशांत शर्मा का जन्म 2 सिंतबर, 1988 को दिल्ली में हुआ था। ईशांत ने अपने क्रिकेट कॅरियर शुरूआत टेस्ट मैच वर्ष 2007 में बांग्लादेश के खिलाफ की थी। इस वर्ष उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने वनडे कॅरियर की शुरूआत की। वर्ष 2008 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना पहला टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला था। उन्होंने विराट कोहली के साथ ही अपना फर्स्ट क्लास और रणजी कॅरियर 2006 में शुरू किया था।

उन्होंने बास्केटबॉल खिलाड़ी प्रतिमा सिंह से 10 दिसंबर 2016 को शादी की थी। दोनों की मुलाकात वर्ष 2011 में पहली बार एक बास्केटबॉल मैच के दौरान हुई थी। इसके बाद दोनों में नजदीकियां बढ़ीं और प्यार शादी में बदल गया।

12 साल के क्रिकेट कॅरियर में आए कई उतार-चढ़ाव

ईशांत ने अपनी गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया लेकिन उनके कॅरियर में भी कई उतार-चढ़ाव आए। पर ईशांत ने हिम्मत नहीं हारी और अपने आलोचकों को समय-समय पर गेंद से जबाव देते रहे हैं। उन्होंने शुरूआत में टीम इंडिया को कई मैच जीताए, लेकिन धीरे-धीरे वह अपनी गति खोने लगे। वह जल्द ही टीम में जगह बनाए रखने के लिए संघर्ष करते नजर आए। उनका आखिरी टी-20 मैच 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला गया मैच था।

वर्ष 2014 में एमएस धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया इंग्लैंड दौरे पर थी तब ईशांत ने एक बार फिर खुद को साबित किया। उन्होंने शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए 74 रन देकर 7 विकेट लेकर भारतीय टीम को जीत दिलाई। इसके बाद चयनकर्ताओं के लिए ईशांत को नजरअंदाज करना मुश्किल हो गया। बाद में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीत में ईशांत ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इसके बाद भी ईशांत को विश्व कप 2019 से दूर रखा।

फिलहाल भारतीय टीम वेस्टइंडीज के दौरे पर है और टेस्ट सीरीज खेल रही है जिसका दूसरा और अंतिम टेस्ट खेला जा रहा है। इस मैच की पहली पारी में ईशांत ने अपने टेस्ट कॅरियर का पहला अर्धशतक लगाया है। जमैका टेस्ट से पहले इशांत ने 91 मैचों में 3.19 की इकोनॉमी और 33.56 के औसत के साथ 275 विकेट लिए है।

ईशांत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट की पहली पारी के 47वें ओवर में जेहमर हेमिल्टन को आउट कर पूर्व तेज गेंदबाज कपिल देव के एशिया से बाहर सर्वाधिक विकेट का रिकॉर्ड तोड़ दिया। उसके नाम अब एशिया के बाहर टेस्ट क्रिकेट में 156 विकेट हैं। अनिल कुंबले इस लिस्ट में 200 विकेट के साथ टॉप पर हैं।

आईपीएल में हुई थी अनदेखी

ईशांत ने वह दिन भी देखें हैं जब एक समय आईपीएल में किसी टीम ने उन्हें खरीदा नहीं था। लेकिन अपने शानदार प्रदर्शन से ईशांत को वर्ष 2019 के आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स ने खरीदा। उन्होंने ने इस सीजन में शानदार गेंदबाजी कर साबित कर दिया कि वे छोटे फॉर्मेंट के लिए कितने उपयोगी गेंदबाज हैं।

COMMENT