भारत में आबादी के हिसाब से कोरोना के मामले और मृत्यु दर दुनिया में सबसे कम

Views : 3163  |  3 minutes read
Corona-Death-Data-India

चीन से फैली कोरोना वायरस महामारी ने दुनियाभर के देशों को संकट में डाल दिया है। भारत में कोरोना संक्रमण के मामले प्रतिदिन 20 हजार से कम होते नहीं दिख रहे हैं। लेकिन एक अच्छी बात यह है कि भारत में प्रति दस लाख की आबादी पर कोरोना वायरस के मामले और इसकी वजह से मृत्यु दर दुनिया में सबसे कम है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को यह जानकारी दी। मंत्रालय ने डब्ल्यूएचओ की एक रिपोर्ट के हवाले से कहा कि भारत में प्रति दस लाख आबादी पर कोरोना के मामलों की संख्या 505.37 है, जबकि वैश्विक औसत 1,453.25 है।

प्रति 10 लाख की आबादी पर इन देशों की हालात खराब

आपको जानारी के लिए बता दें कि छह जुलाई को आई विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी डब्ल्यूएचओ की स्थिति रिपोर्ट-168 के मुताबिक, अमेरिका, ब्राजील, स्पेन, रूस, ब्रिटेन, इटली और मेक्सिको में प्रति दस लाख आबादी पर संक्रमण के क्रमश: 8560.5, 7419.1, 5358.7, 4713.5, 4204.4, 3996.1 और 1955.8 मामले हैं। वहीं, चिली की स्थिति इस मामले में सबसे ज्यादा खराब है जहां, प्रति दस लाख आबादी पर 15459.8 मामले सामने आ रहे हैं, जबकि पेरू में प्रति दस लाख आबादी पर 9070.8 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं।

ब्रिटेन में प्रति 10 लाख आबादी पर 651.4 लोगों की हो रही मौत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, ‘डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट से यह भी जाहिर होता है कि भारत में प्रति दस लाख आबादी पर कोरोना वायरस संक्रमण से हो रही मौतों में सबसे कम मृत्यु दर है। भारत में प्रति दस लाख आबादी पर मौत के मामले 14.27 हैं, जबकि वैश्विक औसत इससे करीब चार गुना यानी 68.29 है।’ ब्रिटेन में प्रति दस लाख आबादी पर 651.4 मौत हुई हैं, वहीं स्पेन, इटली, फ्रांस, अमेरिका, पेरू, ब्राजील और मेक्सिको में यह आंकड़ा क्रमश: 607.1, 576.6, 456.7, 391.0, 315.8, 302.3 और 235.5 है।

Read More: केंद्र सरकार ने फेस मास्क और हैंड सैनिटाइजर को आवश्यक वस्तुओं की लिस्ट से हटाया

हमने स्वास्थ्य सेवाओं के बुनियादी ढांचे को बेहतर बनाया

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के मामलों से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए देश में स्वास्थ्य सेवाओं के बुनियादी ढांचे को बेहतर बनाया गया है। मंत्रालय ने कहा कि तैयारी के तहत ऑक्सीजन सहायतित आईसीयू और वेंटिलेटर सुविधाओं का इंतजाम किया गया। सात जुलाई तक कोविड-19 के 1201 समर्पित अस्पताल, 2611 कोरोना स्वास्थ्य केंद्र और 9909 कोरोना देखभाल केंद्र हैं, जहां अति गंभीर से लेकर बहुत हल्के लक्षण वाले मरीजों का उपचार किया जा रहा है। आपको बता दें कि भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या सात लाख को पार कर चुकी है और यहां इससे मरने वालों की संख्या 20,160 हो गई है।

COMMENT