हैकर्स ने इस एप के पांच लाख से ज्यादा अकाउंट्स को बेचा, 15 पैसे से भी कम कीमत पर

Views : 3498  |  3 minutes read

लॉकडाउन की वजह से पूरे देश में लोग वर्क फ्रोम होम कर रहे हैं। इस दौरान मीटिंग व वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के लिए ज्यादातर जूम एप का उपयोग किया जा रहा है। लेकिन ये खबर चौंकाने वाली आई है कि हैकर्स ने जूम के 5 लाख से ज्यादा अकाउंट हैक कर लिए हैं और इनके पासवर्ड 15 पैसे से भी कम कीमत पर बेचे गए हैं।

इस तरह हुआ खुलासा, ​सिर्फ चंद पैसों में बिक रही अकाउंट डिटेल

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार ब्लीपिंग कंप्यूटर की एक रिपोर्ट आई है जिसमें बताया गया है कि 5 लाख से ज्यादा जूम यूजर्स के अकाउंट डिटेल को डार्क वेब में बेचा जा रहा है। चौंकाने वाली बात यह है कि लोगों का इतना महत्वपूर्ण डेटा कुछ चंद पैसों में बेचा गया है और कई लोगों का डेटा फ्री तक में बेचा गया है।

जूम की प्राइवेसी पर पहले से उठ रहे सवाल

गौरतलब है कि लॉकडाउन के चलते कर्मचारी अपने घर से ही काम कर रहे हैं और इस दौरान जूम एप बहुत लोकप्रिय हो गया है। इस एप पर मीटिंग व वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सुविधा के कारण इसे डाउनलोड किया जाने लगा और करोडों लोगों ने इसे डाउनलोड कर उपयोग ​भी किया। लेकिन इसकी प्राइवेसी को लेकर काफी दिनों से सवाल उठाए जा रहे हैं। गूगल जैसी अन्य कंपनियों ने इसके उपयोग पर रोक लगा दी है और कर्मचारियों को इस पर काम न करने की सलाह दी है।

Read More: पीएम मोदी का संबोधन : देश में 3 मई तक जारी रहेगा लॉकडाउन, जानिये मुख्य बातें

अगर आप भी करते हैं यूज तो इस बात का रखें ध्यान

अगर आप भी जूम एप का उपयोग करते हैं तो आपको या तो पासवर्ड बदल लेना चाहिए या मजबूत पासवर्ड रख लेना चाहिए या अन्य कोई सुरक्षित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप का उपयोग करना चाहिए। रिपोर्ट के अनुसार हैकर्स ने यूजर्स की मेल आईडी,पासवर्ड,मीटिंग यूआरएल आदि महत्वपूर्ण जानकारियां हैक कर ली हैं। ज्यादातर अकाउंट शिक्षण संस्थानों के बताए जा रहे हैं। इस मामले में कंपनी के प्रवक्ता का कहना है कि वीडियो कॉलिंग के लिए अभी एंड टु एंड एन्क्रिप्शन सुविधा नहीं है।

 

COMMENT