राजस्थान: कोरोना मरीजों का चिन्हित मेडिकल कॉलेजों में हो सकेगा तुरंत उपचार

Views : 905  |  3 minutes read

राजस्थान में कोरोना वायरस के बढते प्रकोप को देखते हुए राज्य सरकार ने कोरोना पॉजीटिव मरीजों का चिन्हित मेडिकल कॉलेजों में तुरंत उपचार करने के आदेश दिए हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार ने प्रदेश के समस्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों (सीएमएचओ) को कोरोना पॉजीटिव मरीजों के तुरंत उपचार के लिए चिन्हित मेडिकल कॉलेजों में इलाज शुरू करने के निर्देश दिए हैं।

अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार ने दिए निर्देश

अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार द्वारा जारी निर्देश के अनुसार एसएमएस मेडिकल कॉलेज में जयपुर, अलवर, सीकर, झुंझुनूं, दौसा, अजमेर, नागौर, टोंक, भरतपुर, करौली, सवाईमाधोपुर और धौलपुर जिले के मरीजों को भर्ती कराया जा सकता है। इसी तरह डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज, जोधपुर में जोधपुर, पाली, जालौर, बाड़मेर, जैसलमेर और सिरोही के कोरोना पॉजीटिव मरीजों का इलाज करवाया जा सकता है।

Read More: आपकी कार या बाइक में भी हो सकता है कोरोना, इस तरह रहें सुरक्षित

आरएनटी मेडिकल कॉलेज, उदयपुर में उदयपुर, राजसमंद, बांसवाड़ा, डूंगरपुर, चित्तौडगढ़ और प्रतापगढ़ के मरीजों को लाया जा सकता है। इसी प्रकार एमजीएम मेडिकल कॉलेज भीलवाड़ा में भीलवाड़ा, एसपी मेडिकल कॉलेज बीकानेर में बीकानेर, चुरू, हनुमागढ़, श्रीगंगानगर और न्यू मेडिकल कॉलेज कोटा में कोटा, झालावाड़, बूंदी व बारां के कोरोना प्रभावित मरीजों के इलाज के लिए सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई है।

COMMENT