राहतः देशद्रोह के मामले में कंगना रनौत पर 15 फरवरी को सुनवाई करेगा बॉम्बे हाईकोर्ट

Views : 2306  |  3 minutes read
Kangana-Ranaut-Case

हर मुद्दे पर बेबाकी से अपनी राय रखने के लिए मशहूर बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के लिए एक राहत भरी खबर है। देशद्रोह के मामले में आरोपी अभिनेत्री कंगना पर सोमवार को सुनवाई टल गई। जानकारी के अनुसार, बॉम्बे हाईकोर्ट अब इस मामले की सुनवाई 15 फरवरी को करेगा। बता दें कि पिछले साल एक बयान को लेकर कंगना रनौत के खिलाफ केस दर्ज कराया गया था। 17 अक्टूबर, 2020 को कथित तौर पर दो समुदायों के बीच विवाद बढ़ाने और अन्य आरोपों के लिए स्थानीय अदालत के आदेश पर कंगना और उनकी बड़ी बहन रंगोली के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी।

जिसमें अभिनेत्री कंगना रनौत पर धार्मिक भावनाएं भड़काने, कलाकारों को हिंदू-मुसलमान में बांटने और सामाजिक द्वेष को बढ़ावा देने का आरोप लगा। उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा- 153ए (अलग-अलग धार्मिक, जातीय समूहों में द्वेष को बढ़ावा देना), धारा-295 ए (जानबूझकर धार्मिक भावनाओं को भड़काना), धारा-124 ए (देशद्रोह) और धारा-34 के तहत मामला दर्ज किया गया।

आप राष्ट्रवादी हैं तो आपको अकेले ही खड़ा होना पड़ेगाः कंगना

उल्लेखनीय है कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद कंगना रनौत सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव नजर आई थीं। इस दौरान उन्होंने बॉलीवुड हस्तियों को जमकर निशाने पर लिया और उनकी पोल खोलने की कोशिश की। इसके अलावा वह कई सामाजिक मुद्दों पर भी खुलकर बोलीं। इस दौरान उन्होंने कुछ ऐसे विवादित बयान दे दिए, जिससे वे मुसीबत में पड़ गईं।

बॉम्बे हाईकोर्ट ने अभिनेता सोनू सूद की बीएमसी के नोटिस के खिलाफ दायर याचिका की खारिज

पिछले दिनों इस मामले में कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली से मुंबई की बांद्रा पुलिस ने पूछताछ की थी। इसके बाद कंगना ने एक ट्वीट कर लिखा था, ‘अगर आप भारत के विरोधी हैं तो आपको बहुत सारा समर्थन, काम, पुरस्कार और प्रशंसा मिलेगी। अगर आप राष्ट्रवादी हैं तो आपको अकेले ही खड़ा होना पड़ेगा। अपनी स्वयं की सहायता प्रणाली बनें और अपनी स्वयं की अखंडता की सराहना करें।’

COMMENT