एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप फेस्टिवल का आयोजन होता है कश्मीर में, यहां जानें

Views : 1803  |  0 minutes read

कश्मीर को धरती का स्वर्ग कहा जाता है, जिसके पीछे वहां की प्राकृतिक धरोहर का बड़ा हाथ है। इस धरती के स्वर्ग पर स्थित ट्यूलिप गार्डन एशिया का सबसे बड़ा गार्डन है। जो तीन स्तरों में बना हुआ है। इस गार्डन की महत्ता बताने व उसकी सुन्दरता की झलक से सैलानियों को रूबरू करवाने के वास्ते हर साल कश्मीर टूरिज्म बोर्ड श्रीनगर में ‘ट्यूलिप फेस्टिवल’ का आयोजन किया जाता है। इस फेस्टिवल में देश-विदेश के पर्यटक यहां की खूबसूरती के नजारे देखने के लिए खुद-ब-खुद खिंचे चले आते हैं।

इस वर्ष इसकी शुरूआत 1 अप्रैल से हो रही है और इसका समापन 30 अप्रैल को होगा।

आइए जानते हैं के बारे में कुछ रोचक बातें

श्रीनगर के इंदिरा गांधी मेमोरियल ट्यूलिप गार्डन में हर साल ट्यूलिप फेस्टिवल का आयोजन किया जाता है जो एशिया का सबसे बड़ा आयोजन है। जो श्रीनगर में पर्यटन को बढ़ावा देने के साथ-साथ फूलों की खेती को भी प्रोत्साहन देने का बेहतरीन जरिया है।

वसंत के आगमन के साथ ही यहां पर ट्यूलिप के 46 से भी अधिक प्रकार देखने को मिल सकते हैं। जिनमें प्रमुख हैं स्टैंडर्ड ट्यूलिप, डबल ट्यूलिप, पैरट ट्यूलिप, फ्रिंज्ड ट्यूलिप, सिंगल लेट ट्यूलिप आदि। इतने सारे रंग-बिरंगे खूबसूरत फूलों को देखकर हर किसी का दिल झूम उठेगा। इस गार्डन में लगे फव्वारे यहां की खूबसूरती में चार चांद लगा देते हैं।

जैसे ही गर्मियों की शुरूआत का आवागमन होता है वैसे ही यह फेस्टिवल शुरु हो जाता है। फूलों के इस खूबसूरत बाग से डल झील का शानदार नजारा देखने को मिलता है। कश्मीर का यह बेहद खूबसूरत ट्यूलिप गार्डन घूमने का बेस्ट टाइम मार्च से मई तक होता

ट्यूलिप के अलावा और भी कई तरह के फूल देखने को मिलेंगे जिनमें प्रमुख हैं कमल, गुलाब और नरगिस के फूल। इस बार लोगों के लिए फेस्टिवल में फ्री वाई-फाई की भी सुविधा उपलब्ध करवायी जा रही है।

फेस्टिवल में शामिल होकर आप लजीज़ कश्मीरी व्यंजनों का भी स्वाद ले सकते हैं और यहां के परम्परागत हैंडीक्राफ्ट्स भी खरीद सकते हैं।

COMMENT