पाठक है तो खबर है। बिना आपके हम कुछ नहीं। आप हमारी खबरों से यूं ही जुड़े रहें और हमें प्रोत्साहित करते रहें। आज 10 हजार लोग हमसें जुड़ चुके हैं। मंजिल अभी आगे है, पाठकों को चलता पुर्जा टीम की ओर से कोटि-कोटि धन्यवाद।

कैंसर को मात देकर फिर से फिल्म ‘चेहरे’ से कमबैक कर रही हैं एक्ट्रेस मनीषा कोइराला

4 Minute's read

नेपाली मूल की बॉलीवुड एक्ट्रेस मनीषा कोइराला आज 16 अगस्त को 49वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रही है। वह हिंदी के अलावा नेपाली, तेलुगू, तमिल और मलयालम फिल्मों एक्टिंग कर चुकी हैं और अभी भी सक्रिय हैं। उन्हें बेस्ट एक्टिंग के लिए तीन फिल्मफेयर अवॉर्ड मिले हैं। नेपाल सरकार ने वर्ष 2001 में उन्हें देश का दूसरा सर्वोच्च सम्मान गोरखा दक्षिणा बाहू से सम्मानित किया जा चुका हैं। एक्टिंग के अलावा वह भरतनाट्यम और मणिपुरी शास्त्रीय नृत्य में भी पारंगत हैं।

नेपाल के कोइराला राजनीतिक परिवार में जन्मीं

नेपाल के काठमांडू में 16 अगस्त, 1970 को जन्मी मनीषा कोइराला, नेपाल के एक राजनीतिक परिवार से हैं। मनीषा के पिता प्रकाश कोइराला नेपाल के पूर्व कैबिनेट मंत्री हैं। उनके दादा बिश्वेश्वर प्रसाद कोइराला नेपाल के 22वें प्रधानमंत्री रहे हैं। उनके एक भाई सिद्धार्थ कोइराल है जो बॉलीवुड में एक्टर है।

मनीषा का बचपन भारत में ही बीता, वह अपने नाना के घर वाराणसी में रही और यहीं से दसवीं तक की पढ़ाई वसंत कन्या महाविद्यालय से की। वह डॉक्टर बनाना चाहती थी, जिसके लिए वह दिल्ली चली गईं और दिल्ली के आर्मी पब्लिक स्कूल (एपीएस) में दाखिला ले लिया और अपनी पढ़ाई पूरी की। लेकिन बाद में उनका रूझान मॉडलिंग की ओर होने लगा और यहीं से उन्हें बॉलीवुड में प्रवेश करने का मौका मिला।

एक्टिंग में बनाया कॅरियर

मनीषा को स्कूली दिनों में नेपाली फिल्म ‘फेरी भटौला’ (1989) में अभिनय का मौका मिला, जो उनकी पहली फिल्म थी। मनीषा ने बॉलीवुड में एंट्री सुभाष घई द्वारा निर्देशित ‘सौदागर’ (1991) फिल्म से की। इस फिल्म में उस दौर के दो लीजेंड एक्टर राज कुमार और दिलीप कुमार एक साथ बड़े पर्दे पर थे। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुई और मनीषा रातों रात हिंदी सिनेमा की स्टार एक्ट्रेस में शामिल हो गई।

हालांकि मनीषा एक गैर-फ़िल्मी परिवार से संबंध रखती थी। इसके बावजूद उन्होंने खुद को बॉलीवुड की बेस्ट एक्ट्रेस में शामिल कर लिया था। इसके बाद मनीषा ने ‘1942: ए लव स्टोरी’ (1994) और तमिल भाषा बॉम्बे (1995), ‘अग्नि साक्षी’ (1996) में दमदार एक्टिंग की।

उन्होंने हिंदी सिनेमा में कई बेहतरीन फिल्मों में एक्टिंग की, जिनमें प्रमुख हैं— वर्ष 1997 में आई ‘गुप्त’, जो बॉक्स ऑफिस पर ब्लॉकबस्टर साबित हुई। इस वर्ष उनकी फिल्म ‘दिल से’ रिलीज हुई, जिसके लिए उन्हें फिल्म फेयर बेस्ट एक्ट्रेस का नामांकन भी मिला। वर्ष 1999 में ‘मन’ और ‘कच्चे धागे’ फिल्मों में उनके बेहतरीन अभिनय की तारीफ हुई। वर्ष 2000 में रिलीज हुई मल्टीस्टारर फिल्म ‘लज्जा’ में उन्होंने शानदार एक्टिंग की। उसके बाद वह वर्ष 2002 में अजय देवगन के साथ ‘कंपनी’ फिल्म में नजर आई और उन्हें बेस्ट एक्ट्रेस का तीसरा फिल्म फेयर क्रिटिक्स का अवॉर्ड से भी नवाजा गया।

फिल्म निर्माता भी बनी

मनीषा कोइराला ने बॉलीवुड में फिल्म निर्माण में भी हाथ आजमाया है। इसके लिए वह वर्ष 2004 में अमेरिका गई और फिल्म मेकिंग का डिप्लोमा न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी से किया। मनीषा ने अपनी पहली फिल्म ‘पैसा वसूल’ का निर्माण किया।

विवाह

बॉलीवुड फिल्म एक्ट्रेस मनीषा कोइराला ने नेपाल के बिजनेसमैंन सम्राट दहाल से 19 जून, 2010 में शादी की थी। परंतु उनकी यह शादी लंबी नहीं चल सकी और वर्ष 2012 में उन्होंने तलाक ले लिया।

मनीषा को वर्ष 2012 में ही ओवरी कैंसर हो गया, जिसका इलाज मुंबई और अमेरिका में कराया। वह अब इस बीमारी से निजात पा चुकी हैंं

बॉलीवुड में कमबैक

कैंसर को मात देकर एक बार फिर मनीषा बड़े पर्दे पर फिल्म ‘चेहरे’ से कमबैक करने जा रहीं हैं।

COMMENT

Chaltapurza.com, एक ऐसा न्यूज़ पोर्टल जो सबसे पहले, सबसे सटीक की भागमभाग के बीच कुछ अलग पढ़ने का चस्का रखने वालों का पूरा खयाल रखता है। हम देश-विदेश से लेकर राजनीतिक हलचल, कारोबार से लेकर हर खेल तो लाइफस्टाइल, सेहत, रिश्ते, रोचक इतिहास, टेक ज्ञान की सभी हटके खबरों पर पैनी नजर रखने की कोशिश करते हैं। इसके साथ ही आपसे जुड़ी हर बात पर हमारी “चलता ओपिनियन” है तो जिंदगी की कशमकश को समझने के लिए ‘लव यू जिंदगी’ भी कुछ अलग है। हमारी टीम का उद्देश्य आप तक अच्छी और सही खबरें पहुंचाना है। सबसे अच्छी बात यह है कि हमारे इस प्रयास को निरंतर आप लोगों का प्यार मिल रहा है…।

Copyright © 2018 Chalta Purza, All rights Reserved.