बर्थडे स्पेशल: एक्टिंग स्किल्स के दम पर 5 बार नेशनल फिल्म अवॉर्ड जीत चुकी हैं शबाना आज़मी

Views : 1573  |  0 minutes read
Actress-Shabana-Azmi

बॉलीवुड की सीनियर एक्ट्रेस शबाना आज़मी अपने जीवन के 69 साल पूरे कर चुकी हैं। उनका जन्म 18 सितंबर, 1950 को उस वक़्त के शायर-लेखक कैफ़ी आज़मी के घर में हुआ था। उनकी मां शौकत कैफ़ी भी फिल्म एवं थिएटर एक्ट्रेस हुआ करती थी। शबाना के पिता और माता कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के मेंबर थे। उनके भाई बाबा आज़मी सिनेमेटोग्राफर और भाभी तनवी आज़मी भी एक्ट्रेस हैं। शबाना का बचपन का नाम मुन्नी था। 5 बार की नेशनल फिल्म अवॉर्ड बेस्ट एक्ट्रेस विजेता शबाना आज़मी के जन्मदिन पर जानते हैं उनसे जुड़ी कई ख़ास बातें..

Actress-Shabana-Azmi

साइकोलॉजी में स्नातक है शबाना

जब शबाना आज़मी छोटी थी, उनका परिवार काम के सिलसिले में मुंबई शिफ्ट हो गया था। शबाना ने क्वीन मैरी स्कूल बॉम्बे से अपनी स्कूलिंग पूरी की। इसके बाद उन्होंने मुंबई के सेंट जेवियर कॉलेज से साइकोलॉजी में ग्रेजुएट की डिग्री ली। उन्होंने फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एफटीआईआई) पुणे से अभिनय में कोर्स किया।

Actress-Shabana-Azmi

फिल्म इंस्टीट्यूट में प्रवेश लेने का कारण बताते हुए उन्होंने एक बार कहा था, मुझे एक फिल्म में जया भादुड़ी को देखने का सौभाग्य मिला। इस दौरान मैं उनकी एक्टिंग की कायल हो गई, मैंने इससे पहले कभी इतनी अच्छी परफॉरमेंस नहीं देखी थी। मैंने सोचा कि मेरे ईश्वर, अगर मैं फिल्म इंस्टीट्यूट चली जाऊं तो वह हासिल कर सकती हूं जो मैं चाहती हूं। बता दें कि शबाना आज़मी एफटीआईआई के साल 1972 बैच के पासआउट सबसे सफ़ल स्टूडेंट में से एक हैं।

Actress-Shabana-Azmi

सन् 1973 में शुरु हुआ था सिनेमाई सफ़र

सिनेमाई माहौल में पली-बढ़ी शबाना आज़मी का फिल्मी कॅरियर सन् 1973 में एफटीआईआई से पासआउट होने के बाद शुरु हो गया था। इस साल उन्हें ख़्वाजा अहमद अब्बास ने फिल्म ‘फ़ासला’ और कांति लाल राठौड़ ने फिल्म ‘परिणय’ के लिए साइन किया था। शबाना की पहली रिलीज फिल्म प्रसिद्ध डायरेक्टर श्याम बेनेगल की पहली डायरेक्टोरल फिल्म ‘अंकुर’ (1974) थी। यह फिल्म हैदराबाद में घटित एक सच्ची कहानी पर आधारित थी।

Actress-Shabana-Azmi

शबाना आज़मी को उनकी डेब्यू फिल्म ‘अंकुर’ में शानदार एक्टिंग के लिए नेशनल फिल्म अवॉर्ड फॉर बेस्ट एक्ट्रेस मिला था। इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। शबाना ने ‘अर्थ’, ‘निशांत’, ‘परवरिश’ ‘मासूम’ और ‘स्पर्श’, जैसी सराहना पाने वाली फिल्मों में काम किया। शबाना को अलग तरह का किरदार को शानदार तरीके से पेश करने के लिए भी जाना जाता है। उन्होंने ‘फायर’ जैसी विवादास्पद फिल्म में भी काम किया है। वेटरन एक्ट्रेस शबाना आज़मी को अब तक के कॅरियर में 5 बार फिल्म ‘अंकुर’, ‘अर्थ’, ‘खंडहर’, ‘पार’ और ‘गॉडमदर’ में दमदार अभिनय के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिल चुका है।

Actress-Shabana-Azmi
कमर्शियल फिल्मों में भी किया काम, जावेद अख़्तर से की शादी

शबाना आज़मी ने अपनी इमेज से हटकर कमर्शियल फिल्में जैसे ‘अमर अकबर एंथनी’, ‘मैं आजाद हूं’ ‘परवरिश’ में काम करते हुए आम दर्शकों में भी अपनी पहचान बनाई। शबाना अदाकारी के अलावा अपनी निजी ज़िंदग़ी को लेकर भी सुर्खियों में रहीं। उन्होंने गीतकार-लेखक जावेद अख़्तर से शादी की। जावेद की यह दूसरी शादी थी। उनसे पहले शबाना का नाम फिल्म मेकर शेखर कपूर के साथ भी जुड़ चुका था। शबाना और जावेद के प्यार की शुरुआत शबाना के घर से ही हुई थी।

Read More: छोटे पर्दे पर वापसी कर रहे शाहरुख खान जल्द इस शो में आएंगे नज़र

दरअसल, जावेद वर्ष 1970 में शबाना आज़मी के पिता कैफ़ी आज़मी से लिखने की कला सीखते थे। इस दौरान ही दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ी थीं। बाद में इन दोनों के अफेयर की भनक मीडिया को भी लग गई। शबाना के लिए जावेद अख़्तर ने अपनी पहली पत्नी हनी को छोड़ दिया था। एक्टिंग के क्षेत्र में शानदार अदाकरी के कारण वर्ष 2012 में शबाना आज़मी को भारत सरकार द्वारा ‘पद्म भूषण’ पुरस्कार से नवाज़ा जा चुका है।

COMMENT