Bhai Dooj 2020: इन प्यार भरे संदेशों के साथ दें भाईदूज की शुभकामनाएं…

Views : 6146  |  3 minutes read
Bhai-Dooj-Wishes

हिंदू धर्म में दिवाली से ठीक दो दिन बाद भाईदूज का त्योहार मनाया जाता है। यह त्योहार भी रक्षाबंधन की तरह ही होता है। जो भाई और बहन के अटूट प्रेम को समर्पित है। भाई दूज इस बार 16 नवंबर को है। यह त्योहार बड़े हर्षोल्लास के साथ हर घर में मनाया जाता है। इस दिन बहन और भाई मीठी नोंक झोक, मस्ती के साथ पकवान, मिठाइयां, उपहार सभी का आनंद उठाते हैं। भाईदूज के दिन हर बहन अपने भाईयों को तिलक करती हैं और मिठाईयां खिलाती हैं, और उन्हें खूब स्नेह दुलार करती हैं व साथ ही उनके लंबे खुशहाल जीवन की कामना भी करती हैं। भाई भी अपनी बहन को उपहार और बेस्ट विशेज देते हैं। सोशल मीडिया के इस दौर में आप भी इन खूबसूरत मैसेजेस के साथ अपने भाई-बहनों को इस खास दिन की ढेरों शुभकामनाएं दें।

इन खूबसूरत मैसेजेस के साथ दें भाईदूज की शुभकामनाएं..

1.बहन करती भाई का दुलार,

उसे चाहिए बस भाई का प्यार,

नही करती कोई और चाहत,

बस भाई को मिले खुशियां हजार…

हैप्पी भाई दूज।

 

2.थाल सजा कर बैठीं हूँ अंगना,

तू आजा अब और इन्तजार नही करना,

मत डर अब तू इस दुनिया से,

सबसे लड़ने खड़ी हैं तेरी बहना,

हैप्पी भाई दूज।

 

3.भाई दूज का हैं त्योहार,

बहनें मांगे भाई से लाख उपहार,

तिलक लगाकर मिठाई खिलाकर,

देती आशीर्वाद खुश रहो हर बार।

हैप्पी भाई दूज।

4.कामयाबी तुम्हारे कदम चूमे,

खुशियाँ तुम्हारे चारो और हो,

पर भगवान से इतनी प्रार्थना करने के लिए,

तुम मुझे कुछ तो कमीशन दो।

हैप्पी भाई दूज।

 

5.याद आता है अक्सर वो गुजरा हुआ ज़माना

तेरी मीठी सी आवाज़ में भाई कहकर बुलाना

अब किससे छेड़छाड़ करूं बहना

तेरी बहुत याद आती है मेरी प्यारी बहना

भाई दूज की शुभकामनाएं।

 

6.भाई दूज का है त्योहार

बहन मांगे भाई से रुपये हज़ार

तिलक लगाकर मिठाई खिलाकर

देती आशीर्वाद खुश रहो हर बार।

हैप्पी भाई दूज।

 

7.बहन चाहे भाई का प्यार

नहीं चाहिए महंगे उपहार

रिश्ता अटूट रहे सदियों तक

मिले मेरे भाई को खुशियां अपार

हैप्पी भाई दूज

8.खुशनशीब होती है वो बहन

जिसके सिर पर भाई का हाथ होता है

हर परेशानी में उसका साथ होता है

लड़ना-झगड़ना फिर प्यार से मनाना

तभी तो इस रिश्ते में प्यार होता है।

हैप्पी भाई दूज।

 

9.प्रेम से सज़ा है ये दिन

कैसे कटे भाई तेरे बिन

अब ये मुस्कान बोझ सी लगती है

तू आजा अब ये सज़ा नहीं कटती है

हैप्पी भाई दूज।

 

10.वो बचपन की शरारते, वो झूलों पे खेलना

वो माँ का डांटना,वो पापा का लाड

पर एक चीज़ जो इन सब से ख़ास है

वो है मेरी प्यारी बहन का प्यार

COMMENT