Tag: Poet

Prasoon-Joshi-Biography

प्रसून जोशी ने महज 17 साल की उम्र में लिख दी थी अपनी पहली किताब

हिंदी फिल्मों के मशहूर गीतकार, स्क्रीनराइटर, एड गुरु और कवि प्रसून जोशी ने आज अपना…

0 Shares

हिंदी साहित्य के ‘शेक्सपियर’ नाम से भी जाने जाते हैं रांगेय राघव

रांगेय राघव हिंदी साहित्य के विलक्षण प्रतिभा के उपन्यासकार, कहानीकार, निबंधकार, कवि थे। बहुमुखी प्रतिभा…

0 Shares
Bhupen-Hazarika-Bio

भारत के सर्वोच्च चारों सम्मान से नवाज़े गए चुनिंदा लोगों में शामिल हैं भूपेन हजारिका

एक कलाकार अपनी ज़िंदगी में ना जाने कितने ही किरदार एक साथ निभाता है। कुछ…

0 Shares
Gulzar-Biography

स्पेशल: रिकॉर्ड बीस फिल्मफेयर व 5 बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीत चुके हैं गुलज़ार साहब

गुलज़ार.. नाम सुनते ही ज़हन में एक ऐसी शख़्सियत की तस्वीर सामने आती है, जिसके…

0 Shares
Anand-Bakshi-Biography

फिल्म इंडस्ट्री में काम करने के लिए भावुक होकर घर से भागे थे गीतकार आनंद बख्शी

​प्रसिद्ध कवि एवं गीतकार आनंद बख्शी उन नग़्मा-निगारों में से एक थे, जो बड़ी प्रतियोगिता…

0 Shares
Sharad-Joshi-Biography

शरद जोशी अपने समय के समाज की विसंगतियों पर व्यंग्य से करते थे तीखा प्रहार

अपने समय में अनूठे व्यंग्यकार, कवि, लेखक और फिल्म स्क्रिप्ट राइटर शरद जोशी की आज…

0 Shares
Sant-Ravidas-Biography

संत रविदास ने सिकंदर लोदी के दिल्ली बुलावे के निमंत्रण को कर दिया था अस्वीकार

भारत में 15वीं शताब्दी के महान संत, कवि, समाज-सुधारक और दर्शनशास्त्री रहे संत रविदास की…

0 Shares
Suryakant-Tripathi-Nirala-Biography

सूर्यकान्त त्रिपाठी ‘निराला’ ने गरीब और शोषित वर्ग पर हो रहे अन्याय के खिलाफ उठाई थी आवाज़

हिंदी के प्रसिद्ध छायावादी साहित्यकार सूर्यकान्त त्रिपाठी ‘निराला’ की 21 फरवरी को 126वीं जयंती है।…

0 Shares
Maithili-Sharan-Gupt-Biography

मैथिलीशरण गुप्त: यही पशु-प्रवृत्ति है कि आप आप ही चरे, वही मनुष्य है कि जो मनुष्य के लिए मरे

‘जो भरा नहीं है भावों से जिसमें बहती रसधार नहीं, वह हृदय नहीं है पत्थर…

0 Shares
Raghuvir-Sahay-Biography

जयंती: रघुवीर सहाय ने अपनी काव्य-शैली में सरल, सहज और सधी भाषा का किया प्रयोग

हिंदी साहित्य के कवि, लघु-कथा लेखक, निबंधकार, आलोचक, अनुवादक और पत्रकार रघुवीर सहाय आज 9…

0 Shares
Gajanan-Madhav-Muktibodh-Biography

विशेष: कवि गजानन माधव मुक्तिबोध का एक भी काव्य संग्रह उनके जीते-जी नहीं छपा था

हिंदी साहित्य के प्रसिद्ध कवि, निबंधकार, उपन्यासकार, आलोचक और कथाकार गजानन माधव मुक्तिबोध की 13…

0 Shares