Happy Valentine’s Day 2020: इन रोमांटिक गानों के साथ अपने वेलेंटाइन डे को यादगार बनाये…

Views : 607  |  5 min. read

साल का सबसे रोमांटिक वो दिन जब आप अपने साथी के लिए खुलकर अपने प्यार का इजहार कर सकते हैं, वेलेंटाइन डे के रूप में मनाया जाता है। एक लंबे इंतजार के बाद आज 14 फरवरी को वेलेंटाइन डे मनाया जा रहा है। दुनिया भर में इस दिन को लव कपल अपने साथी के लिए अनकंडिशनल लव और अपनी फीलिंग्स व्यक्त करते हैं। अपने साथी के प्रति प्यार का इजहार करने के कई तरीके हैं। या तो उन्हें चॉकलेट, केक, गिफ्ट्स, ग्रीटिंग कार्ड गिफ्ट करके या डेट पर ले जाकर या कैंडल-लाईट डिनर करके।

वेलेंटाइन डे पर, जोड़े एक-दूसरे के लिए अपने प्यार को स्वीकार करते हैं और उनके बीच के बंधन का जश्न मनाते हैं। वेलेंटाइन डे को दुनिया भर के कई क्षेत्रों में रोमांस और रोमांटिक प्रेम के एक महत्वपूर्ण सांस्कृतिक, धार्मिक और व्यावसायिक उत्सव के रूप में पहचाना जाता है। इसलिए जैसा कि आप प्यार का दिन मनाते हैं, यहाँ कुछ गीत हैं जो वेलेंटाइन के दिन आपके खूबसूरत पलों में रोमांस भरने का काम करेंगे।

‘आशिकी-2’ से ‘तुम ही हो’

हम तेरे बिन अब रह नहीं सकते
तेरे बिन क्या वजूद मेरा
हम तेरे बिन अब रह नहीं सकते
तेरे बिन क्या वजूद मेरा
तुझसे जुदा गर हो जाएंगे
तो ख़ुद से ही हो जाएंगे जुदा

क्यूंकि तुम ही हो
अब तुम ही हो
ज़िन्दगी अब तुम ही हो
चैन भी, मेरा दर्द भी
मेरी आशिक़ी अब तुम ही हो…

‘टाइगर जिंदा है’ से ‘दिल दिया गला’

कच्ची डोरियों, डोरियों, डोरियों से
मैनु तू बांध ले
पक्की यारीयों, यारीयों, यारीयों में
होंदे ना फासले
ये नाराज़गी कागज़ी सारी तेरी
मेरे सोह्णेया सुन ले मेरी
दिल दियां गल्लां
करांगे नाल नाल बह के
आँख नाले आँख नू मिला के…

‘जुर्म’ से ‘जब कोई बात बिगड़ जाए’

जब कोई बात बिगड़ जाये, जब कोई मुश्किल पड जाये
तुम देना साथ मेरा, ओ हमनवाज
ना कोई हैं, ना कोई था, जिन्दगी में तुम्हारे सिवा
तुम देना साथ मेरा, ओ हमनवाज
हो चांदनी जब तक रात, देता हैं हर कोई साथ
तुम मगर अंधेरो में ना छोड़ना मेरा हाथ
जब कोई बात बिगड़ जाये…

‘धोनी:द अनटोल्ड स्टोरी’ से ‘कौन तुझे यूं प्यार करेगा’

तू आता है सीने में
जब-जब सांसें भरती हूँ
तेरे दिल की गलियों से
मैं हर रोज़ गुज़रती हूँ
हवा के जैसे चलता है तू
मैं रेत जैसे उड़ती हूँ
कौन तुझे यूँ प्यार करेगा?
जैसे मैं करती हूँ…

‘फटा पोस्टर निकला हिरो’ से ‘मैं रंग शरबतों का’

ख़्वाब है तू, नींद हूं मैं
दोनों मिले रात बने
रोज़ यही मांगूं दुआ
तेरी मेरी बात बने, बात बने
मैं रंग शर्बतों का
तू मीठे घाट का पानी
मैं रंग शर्बतों का
तू मीठे घाट का पानी
मुझे खुद में घोल दे तो
मेरे यार बात बन जानी…
COMMENT