Tag: निदा फ़ाज़ली शेर

Nida-Fazli-Biography

‘अपना ग़म लेके कहीं और न जाया जाये, घर में बिखरी हुई चीज़ों को सजाया जाये’ जयंती पर पढ़िए निदा फ़ाज़ली की ख़ास नज्में

“कभी किसी को मुकम्मल जहाँ नहीं मिलता, कहीं ज़मीन कहीं आसमाँ नहीं मिलता…” ये नज्म…

0 Shares