राजस्थान : 24वां चुनाव लड़ रहे हैं तीतर सिंह, पेशे से मजदूर, संपत्ति के नाम पर कुछ नहीं

Views : 3525  |  0 minutes read

चुनावी माहौल में आपने देखा होगा कि हर तरफ पार्टी के प्रत्याशियों की चर्चाएं हो रही है। हर कोई टक्कर के समीकरण लगा रहा है लेकिन आज हम आपको एक ऐसे उम्मीदवार के बारे में बताने जा रहे हैं जो राजस्थान से 24वीं बार चुनाव लड़ने जा रहा है लेकिन अभी भी बहुत ही कम लोग उन्हें जानते हैं।

जी हां, गंगानगर जिले के रहने वाले तीतर सिंह (70) वहां की करनपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने वाले हैं। तीतर सिंह पेशे से मनरेगा मजदूर हैं और उनके जीवन का यह 24वां निर्दलीय चुनाव है। उनके पास चुनाव लड़ने के लिए कुछ करोड़ों रूपये नहीं है लेकिन आस-पास के लोगों का कहना है कि कम से कम एक बार वो जीतने चाहिए इसलिए गांव वाले पैसे दे रहे हैं।

रोज की मजदूरी है 142 रूपये-

तीतर सिंह गुलाबेवाला गांव में रहते हैं और मनरेगा से रोज के 142 रुपये कमाते हैं। चुनाव के लिए सिंह ने 13 नवंबर को अपना पर्चा भरा। उनके राजनीतिक कॅरियर या यूं कहे चुनावी करियर देखें तो अब तक 9 विधानसभा चुनाव, 9 लोकसभा चुनाव के साथ-साथ पंचायत और नगर निगम के चुनाव भी लड़े हैं।

बस एक बार चुनाव जीतने की है चाहत-

तीतर सिंह के घरवालों का कहना है कि वो 23 साल से चुनाव लड़ रहे हैं और इस बार फिर वो जीतने के लिए लड़ रहे हैं। उनके अंदर बस चुनाव लड़ने का जुनून और जीतने की चाहत है।

बेटे करते हैं मजदूरी-

तीतर सिंह के परिवार के नाम पर उनके 2 बेटे हैं जिनका नाम अकबर सिंह और रशपाल सिंह है। तीतर सिंह की पत्नी गुलाब कौर भी मनरेगा मजदूर है और वो चुनाव लड़ने का हमेशा से ही समर्थन करती रही है। पूरा परिवार मनरेगा मजदूरी और कृषि का काम करके गुजारा करता है।

COMMENT