बहुमुखी प्रतिभा की धनी हैं बॉलीवुड अदाकारा माला सिन्हा

Views : 1085  |  0 minutes read

हिंदी सिनेमा की दिग्गज अदाकारा और बहुमुखी प्रतिभा की धनी अभिनेत्री माला सिन्हा 11 नवंबर को अपना 83वां जन्मदिन मना रही हैं। फिल्म इंडस्ट्री में माला अपनी गजब की क्षमता के लिए पहचानी जाती हैं। जिन्होंने ना सिर्फ एक्टिंग में अपना जौहर दिखाया बल्कि डांसिंग में भी अपना दमखम दिखाया। इस खास मौके पर आइए एक नजर डाले उनकी जिंदगी से जुड़ी दिलचस्प बातों पर।

माला सिन्हा का जन्म 11 नवंबर, 1936 को कलकत्ता के एक ईसाई परिवार में हुआ। उनके पिता का नाम अल्बर्ट सिन्हा था। माला का बचपन का नाम आल्डा था। उनकी मां ने स्कूल में आल्डा का नाम बदलकर माला रख दिया। शुरुआती कॅरियर में माला ने ऑल इंडिया रेडियो में भी काम किया।

सिने सफर की शुरुआत

माला सिन्हा ने एक्टिंग की शुरूआत बतौर बाल कलाकार फिल्म जय वैष्णो देवी से की। बतौर अभिनेत्री माला सिन्हा ने फिल्म “बादशाह” से बॉलीवुड में डेब्यू किया। कॅरियर के शुरुआत में माला को फिल्म इंडस्ट्री में संघर्ष करना पड़ा। उस दौर में माला की सीधी टक्कर नरगिस, मीना कुमारी, मधुबाला और नूतन जैसी अभिनेत्रियों के साथ था। जो उस समय सफलतम अभिनेत्रियां थी। ऐसे में माला की शुरुआती फिल्में भी पर्दे पर बेअसर साबित हुई। मगर सफल एक्ट्रेस बनने का जूनून और बिना किसी की परवाह किए बगैर माला अपने दम पर इंडस्ट्री में पहचान बनाने में सफल रहीं।

साल 1957 में आई फिल्म प्यासा माला सिन्हा के सिने कॅरियर में टर्निंग पॉइंट साबित हुई। इसके बाद उन्होंने कई हिट, सुपरहिट फिल्में दी।

बेहतरीन फिल्में

जहांआरा, मर्यादा प्यासा, फिर सुबह होगी, अपने हुए पराये, नीला आकाश, धर्मपुत्र, अनपढ़, , हिमालय की गोद में, आंखें, नई रोशनी, गहरा दाग, जहांआरा, संजोग, मेरे हुजूर, देवर भाभी, उजाला, हरियाली, रास्ताधूल का फूल, गीत, गुमराह, कर्मयोगी जैसी बेहतरीन फिल्मों में काम किया।

निजी जिंदगी

माला ने 16 मार्च 1968 को अपने नेपाली दोस्त चिदंबर प्रसाद लोहानी से शादी कर ली। इस शादी से उन्हें एक बेटी है जिसका नाम प्रतिभा सिन्हा है।

COMMENT