पूर्व कोच और डायरेक्टर ने मेरा कॅरिअर कर दिया खत्म: सरदार सिंह

Views : 1182  |  0 minutes read

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और स्टार हॉकी खिलाड़ी ने हाल ही में अचानक लिए रिटायरमेंट को लेकर बड़ा खुलासा किया है। 32 वर्षीय सरदार सिंह ने बहुत जल्द ही रिटायरमेंट लेने के अपने फैसले पर कहा है कि हॉकी इंडिया के हाई परफॉर्मेंस डायरेक्टर डेविड जॉन और पूर्व कोच शोर्ड मारिन की वजह से उन्हे जल्द संन्यास लेने का फैसला किया। सरदार ने विस्तार से बताया कि मारिन से पहले टीम इंडिया के कोच रोलेंट आॅल्टमैंस को हटाए जाने के बाद नए कोच शोर्ड मारिन उनके खिलाफ माहौल बनाने लगे। बता दें कि एशियन गेम्स में मलेशिया के खिलाफ सेमीफाइनल हारने के बाद सरदार ने संन्यास लेने का फैसला कर लिया था।

2020 ओलम्पिक तक खेलना चाहता था

सरदार ने बताया कि 2017 में एशिया कप जीतने के बाद मैं 2020 ओलम्पिक तक खेलने का मन बनाए बैठा था लेकिन अचानक ही मुझे टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। उन्होनें आगे कहा कि कोच ओल्टमैंस को हटाए जाने के बाद से बहुत कुछ अजीब—सा चल रहा था। मुझे इस साल सुल्तान अजलान शाह कप खेलने के लिए जूनियर टीम के साथ भेज दिया गया। मैं जब वापस आया तो कॉमनवेल्थ गेम्स से भी मुझे हटा दिया गया जबकि मैं पूरी तरह से फिट था। मुझे टीम से हटाए जाने की जानकारी भी नहीं दी गई थी और टीम प्रबंधन ने हमारे होटल के कमरों के बाहर केवल टीम में शामिल लोगों के नाम गेट पर चस्पा कर दिए थे।

डायरेक्टर पर लगाए गंभीर आरोप

सरदार ने भारतीय हॉकी टीम के डायरेक्टर डेविड जॉन पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि वो बहुत झूठ बोलते हैं। उन्होनें बताया कि एक बार यो यो टेस्ट में मेरा स्कोर 21.4 रहा था उसके बावजूद भी मुझे उन्होनें धीमा करार दिया। पूर्व कप्तान सरदार सिंह ने भारत के लिए 314 मैच खेले हैं।

COMMENT