इस दिवाली सेलिब्रेट करें अपना रिश्ता, फेस्टिवल बन जाएगा खास

Views : 2193  |  0 minutes read

दिवाली का सेलिब्रेशन शुरू हो चुका है। साल के सबसे बड़े त्योहार को सेलिब्रेट करने की तैयारियां जोर शोर से चल रही हैं। दिवाली को खूबसूरत बनाने के ​लिए सभी विभिन्न तरह के प्रयास कर रहे हैं ताकि दिवाली यादगार बन जाए। जितने उत्साह के साथ हम दिवाली को सेलिब्रेट करते हैं, उतने ही उत्साह के साथ यदि अपने रिश्तों को भी सेलिब्रेट किया जाए तो जिंदगी में हमेशा सेलिब्रेशन का दौर चलता रहेगा। बस, छोटी—छोटी बातों का ध्यान रखें और जिंदगी के सेलिब्रेशन में खूबसूरत लम्हों को जोड़ते जाएं…।

दिनभर में कुछ देर अपनों के लिए

अपनी जिंदगी का एक नियम बना लें कि चाहे कितने भी व्यस्त हों लेकिन दिनभर में कुछ देर अपनों के साथ व्यतीत करेंगे। यह नियम ना केवल अपको खुशी देगा बल्कि समय के साथ रिश्तों में आ रही दूरी को भी कम करेगा।

भावनाओं पर हावी ना हो तकनीक

आजकल हर घर में फोन एक आफत के तौर पर सामने आ रहा है। अक्सर घर के सभी लोग खाली वक्त में अपने—अपने मोबाइल में लगे नजर आते हैं। साथ होकर भी सब अलग होते हैं। हम भूल जाते हैं कि भावनाओं की जगह तकनीक नहीं ले सकती। कोशिश करें कि जब घर पर सबके साथ हों तो मोबाइल को कुछ समय के लिए अलग रख दें।

कभी—कभी इजहार भी करें

अक्सर लोग अपनी भावनाओं को मन में ही रख लेते हैं, खासकर पुरुष अपनी भावनाओं को खुलकर बयां नहीं करते। लेकिन यह प्रवृत्ति धीरे—धीरे रिश्तों में बोरियत भर देती है। जरूरी नहीं आपका अपना हमेशा आपकी अनकही बातों को समझ जाए। अपनी भावनाओं को दिल में रखने की बजाय उसे शब्दों में बयां कर दें। यह आपके रिश्तों को नई ताजगी देगा।

गिफ्ट के लिए खास दिन का ना करें इंतजार

रिश्ते खूबसूरत हैं यह बताने के लिए गिफ्ट एक बहुत अच्छा तरीका है। लेकिन अक्सर हम गिफ्ट खास मौकों पर ही देते हैं। इसके अलावा हम इस बारे में नहीं सोचते। कोशिश करें कि अपने दिल के करीब लोगों को बिना मौके के ही कोई उपहार दे दें। यह आपके रिश्ते को रिफ्रेश करने का काम करेगा। जरूरी नहीं बड़े तोहफे लाए जाएं, एक खूबसूरत कार्ड, फूल, छोट—सा लैटर आदि भी बेहतर आॅप्शन हो सकते हैं।

रिश्तों के लिए जाएं बाहर

अक्सर लोग कहते हैं कि सालों से हम कहीं घूमने ही नहीं गए। सालों तक एक रूटीन लाइफ जीते हुए नीरसता हर रिश्ते में बस जाती है। जरूरी है कि कम से कम महीने में एक बार ​परिवार के साथ बाहर घूमने निकल जाएं। इससे रिश्तों के बीच की मिठास बनी रहती है।

COMMENT