कौन है सावजी ढ़ोलकिया, जो दीवाली बोनस पर कर्मचारियों को बांटते हैं कारें और सोना-चांदी

Views : 964  |  0 minutes read

आपके बॉस अगर दिवाली पर आपको कुछ ऐसा बोनस दें जिसे पाकर वो दिवाली आपकी हमेशा के लिए यादगार बन जाएं तो इससे बेहतर क्या होगा। ऐसे ही एक बॉस हैं जो पिछले कुछ सालों से हर दिवाली चर्चा में रहते हैं। जी हां, गुजरात के डायमंड कारोबारी सावजी ढ़ोलकिया अपने कर्मचारियों को हर साल दिवाली बोनस पर शानदार तोहफे देने के लिए चर्चा में रहते हैं।

सावजी अपने कर्मचारियों को दिवाली बोनस पर कारें, सोना-चांदी, बैंक एफडी, फ्लैट जैसे गिफ्ट देते हैं।

चाचा से कर्जा लेकर शुरू किया था सफर-

अमरेली जिले के दुधाला गांव के रहने वाले सावजी के शुरूआती दिनों का सफर किसी संघर्ष से कम नहीं रहा। हीरे का कारोबार शुरू करने के लिए खुद के पास पैसे नहीं थे तो अपने चाचा से इन्होंने कर्जा लिया। आज वो गुजरात के सबसे बड़े डायमंड कारोबारी और हरि कृष्णा एक्सपोर्ट्स के चेयरमैन हैं। इनकी कंपनी का सलाना टर्नओवर 6000 हजार करोड़ का है।

2011 से शुरू किया दिवाली पर अनोखे तोहफे देने का सिलसिला-

ढोलकिया ने अपने कर्मचारियों को दिवाली पर इस तरह के अनोखे बोनस गिफ्ट देने का सिलसिला साल 2011 से शुरू किया। 2014 में वो अचानक सुर्खियों में तब आए जब उन्होंने कर्मचारियों को दिवाली पर 491 कारें और 200 फ्लैट बांटे। वहीं कर्मचारियों को इन्सेंटिव के तौर पर 50 करोड़ रुपये बांटे। इसके बाद 2017 में नए साल के मौके पर भी कर्मचारियों को 1200 कारें गिफ्ट के तौर पर दी।

3 कर्मचारियों को गिफ्ट दी थी 1 करोड़ की मर्सेडीज –

कंपनी में 25 साल पूरे करने वाले 3 कर्मचारियों को पिछले महीने ढोलकिया ने 1 करोड़ कीमत वाली मर्सेडीज बेंज कार गिफ्ट की थी। कार की चाबियां गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के हाथों दिलवाई गई थी।

कर्मचारियों को मानते हैं सबकुछ-

सावजी की कंपनी में फिलहाल करीब 8 हजार से भी ज्यादा कर्मचारी काम कर रहे हैं। कंपनी को शून्य से इस मुकाम तक पहुंचाने में सावजी कर्मचारियों की मेहनत और ईमानदारी को सबकुछ मानते हैं। इसलिए उनका कहना है कि कर्मचारियों के लिए कुछ करने में उन्हें खुशी मिलती है।

आपको बता दें कि इस बार दिवाली पर सावजी अपने कर्मचारियों को फिर तोहफा देने जा रहे हैं। इस बार उन्होंने अपने लॉयल्टी प्रोग्राम के तहत 1500 कर्मचारियों को चयनित किया है जिसमें वो 600 कर्मचारियों को कार जबकि 900 कर्मचारियों को बैंक में एफडी दे रहे हैं। पहली बार यह गिफ्ट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों द्वारा दिए जाएंगे।

COMMENT