छत्तीसगढ़ चुनाव: इन मुद्दों को लेकर पार्टियां उतर रही हैं मैदान में

Views : 1040  |  0 minutes read
chhattisgarh

छत्तीसगढ़ में चुनावी बिगुल बज चुका है। ऐसे में सभी पार्टियां प्रचार प्रसार में जुट चुकी हैं। आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है। मतदाताओं को रिझाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है।

ऐसे में नेता जनता तक पहुंच कर समर्थन की मांग कर रहे हैं। नेताओं का एक पार्टी से दूसरी पार्टी में भी जाने का सिलसिला शुरू हो चुका है। टिकटों का भी ऐलान जारी है। छत्तीसगढ़ में दो चरणों में चुनाव होने हैं।

पहला चरण नक्सली प्रभावित क्षेत्र है। मुद्दों की बात करें तो कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने ही अपनी राजनीति साफ कर दी है। बीजेपी नेता रमन सिंह फिलहाल मुख्यमंत्री हैं।

और बीजेपी इस बार किसान, नक्सलवाद, विकास के साथ अपना एजेंडा तैयार कर चुकी है। इसके अलावा जातीय समीकरण तो पार्टी बिठाएगी ही। वहीं विपक्ष में कांग्रेस किसानों द्वारा की जा रही आत्महत्याएं, वनवासी, बेरोजगारी, महंगाई और भ्रष्टाचार को अपने मुद्दे बनाने जा रही है। कांग्रेस और बीजेपी के अलावा अजीत जोगी और बसपा की पार्टियां भी यहां एक्टिव हैं।

कांग्रेस छोड़ चुके अजीत जोगी अपनी पार्टी के साथ पहली बार चुनाव में उतर रहे हैं। वहीं मायावती भी अपनी बसपा के साथ चुनाव में नजर आएँगी। पिछड़े वर्ग पर दोनों ही पार्टियां अपना प्रभाव देख रही हैं।

दोनों गठबंधन में हैं और बेरोजगारी, भ्रष्टाचार को अपना मुद्दा बना रही है। राज्य में एक बड़ा तबका खेती से जुड़ा है। ऐसे में ये वोटर्स काफी मायने रखते हैं। और सभी पार्टियां इन्हीं को रिझाने में लगी हैं।

COMMENT