रजत कपूर: पहली फिल्म के लिए दोस्तों को ईमेल भेजकर जुटाए थे पैसे, कर्ज चुकाने में लगा था इतना समय

Views : 1738  |  5 min read

रजत कपूर एक उभरते हुए अभिनेता, फिल्म निर्देशक और निर्माता हैं जो मुख्य रूप से ग्लैमरस बॉलीवुड फिल्म उद्योग के चेहरे के रूप में जाने जाते हैं। उन्हें मुख्य रूप से उनकी फिल्में जैसे मिथ्या, मिक्स्ड डबल्स और अँखों देखी के लिए पहचाना जाता है। रजत 11 फरवरी को 59वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनके जन्मदिन के खास मौके पर चलिए जानें उनकी अब तक की जिदंगी से जुड़े दिलचस्प किस्सों पर।

रजत कपूर का जन्म 11 फरवरी, 1961 को दिल्ली में हुआ था। उनकी स्कूली पढ़ाई भी दिल्ली से हुई। रजत को बचपन से ही एक्टिंग की तरफ रुझान था। साल 1985 में पढ़ाई पूरी करने के बाद रजत ने पुणे के फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट में दाखिला लिया।

फिल्म ‘मंडी’ से किया फिल्म डेब्यू

सिर्फ 14 साल की उम्र में, रजत ने एक फिल्म निर्माता बनने का मन बना लिया था। 1989 में ‘ख्याल गाथा’ में पूरी तरह से स्क्रीन पर आने से पहले उन्होंने साल 1983 की फिल्म ‘मंडी’ में एक राजनेता के बेटे के रूप में देखा गया था। आमिर खान, अक्षय खन्ना, और सैफ अली खान अभिनीत फिल्म ‘दिल चाहता है’ ने उन्हें हिंदी फिल्म उद्योग में बड़ा ब्रेक दिया।

पहली फिल्म को मिला राष्ट्रीय पुरस्कार

उनकी पहली निर्देशित फिल्म ‘रघु रोमियो’ थी। फिल्म को लेकर भी एक किस्सा है दरअसल फिल्म को बनाने के लिए रजत को पैसों के लिए सभी दोस्तों को ईमेल भेजना पड़ा। फिल्म को बनाने के लिए ईमेल के जरिये जो पैसा इकट्ठा हुआ उसे चुकाने के लिए उन्हें तीन साल से ज्यादा का समय लगा। दुर्भाग्यवश फिल्म भी बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप साबित रही। हालांकि फिल्म ने सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार हासिल किया था। मगर इसके बावजूद यह दर्शकों को रति भर भी पसंद नहीं आई।

बेहतरीन फिल्में

उन्होंने अपने अब तक अभिनय कॅरियर में ‘मानसून वेडिंग’, ‘भेजा फ़्राय’, ‘एजेंट विनोद’, ‘किसना’, ‘कॉर्पोरेट’, ‘ये क्यों होता है’, ‘द्रश्यम मिडनाईट चिल्ड्रेन’ जैसी बेहतरीन फ़िल्में की है।

 

COMMENT